फ़लसफा ज़िंदगी का #3words

life_goes_on

जीवन के सभी सबक जैसे इन तीन शब्दों समाए हैं

“Life Goes On”

समय बलवान है और किसी के लिए नहीं रुकता|यह वो मरहम है जिससे हर घाव भर जाते हैं| यह बात छोटी सी ज़रूर है पर बहुत गहरी भी है|

इसी संदेश को कविता के रूप में कुछ इस तरह पिरोया है…

सुनहरे सपनों की आड़ में,
ज़िंदगी के रंगीन पल, गुप-छुपकर निकल जाते हैं ;

गिर कर उठना तो याद रहता है,
भूल जाते हैं…जब लड़खडाकर सम्भल जाते हैं ;

ये पल धुंधली यादें बनकर ,
होठों  पर कभी झिलमिलाते हैं ;

और कभी आँसू बनकर ,
आँखों में पिघल आते हैं ;

वक़्त से इस कशमकश में ,
दिल-ए-नादान मुस्कुरा ही लेता है ;

बस खुशी के पैमाने बदल जाते हैं…
खुशी के पैमाने बदल जाते हैं ||

ψ ψ ψ

This post is a part of Write Over the Weekend, an initiative for Indian Bloggers by BlogAdda. WOW prompt – ‘My 3 favourite words and why!’

wowbadge

Advertisements

8 thoughts on “फ़लसफा ज़िंदगी का #3words

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s