अनसुनी आवाज़: #AboutOthers

tx5ebij70t9

Just got a new badge on Indiblogger for participating in blogging for Indichange activity. Here is the post I wrote as a tribute to all those poor souls who suffered during natural calamities in India including the Chennai flood victims…I know writing a post is not all they need but spreading awareness can surely play its part…I hope you feel the same and liking and sharing this post may suffice…:-)

https://www.indiblogger.in/indipost.php?post=530985

doc2poet

DSCF0077

इस दिल से उठती आग की चन्द लपटें


क्सर पूछता हूँ इन तन्हाई से ,

पने हैं या समय, जो अपनों को यूँ  सताते हैं;

ती है कठिनाई जब उनके बच्चों पर,

ल्लाह/ भगवान/ यीशु…जाने कहाँ छुप जाते हैं;

ज़माता है वो भी केवल मासूमों को,

र सक्षम बस शोक जताते  हैं;

जब-गज़ब हैं लोग  यहाँ  के,

हम् को तज नहीं पाते हैं;

फ़सोस जताकर facebookपर,

पनों को भूल ही जाते हैं;

या है कलयुग…स्मरण रहे,

ब्र भी यहाँ कहर ही ढाते हैं;

धे-पौने से शहर हैं क्या,

मची-मुंबई को भी ये डूबा जाते हैं;

स्त-व्यस्त है जन-जीवन,

ब चेन्नई, तब उत्तराखंड-कश्मीर याद आते हैं;

धे डूबे से लोग यहाँ, जीने की इस जंग में,

आँसू भी अपने पी जाते हैं;

स्थायी है सब गर याद रहे, तो;

र्थ…

View original post 78 more words

Advertisements

4 thoughts on “अनसुनी आवाज़: #AboutOthers

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s